Allah ne kuchh aese utaare hein Muhammad Lyrics || अल्लाह ने कुछ ऐसे उतारे हैं मुहम्मद || Roman(ENG) & हिंदी (HINDI)


Roman(ENG):

Ya Rasulallah Ya Habiballah Ya Nabiyallah
Ya Rasulallah Ya Habiballah Ya Nabiyallah


Allah ne kuchh aese utaare hein Muhammad
Har Daur mein har shakhs ko pyaare hein Muhammad


Allah ne jahaanon ko bana kar ye pukaara
Ye Donon jahaan sirf Tumhaare hein Muhammad

Allah ne kuchh aese utaare hein Muhammad

Khaalik ne banaaya hai Tumhein Noor se Apne
Hasnain Isi Noor ke paare hein Muhammad

Allah ne kuchh aese utaare hein Muhammad

Abdullah ke hein Noore Nazar Jaano Jigar bhi
Aur Aamena BiBi ke Dulaare hein Muhammad

Allah ne kuchh aese utaare hein Muhammad

Sarkaar ka Milaad manaata nahin jo bhi
Wo soch le Kausar ke kinaare hein Muhammad

Allah ne kuchh aese utaare hein Muhammad

Wallah ye Suraj ye sabhi chaand sitaare
Ye Naqshe qadam Aapke saare hein Muhammad

Allah ne kuchh aese utaare hein Muhammad

Hai Donon Jahaanon mein hi Rehmat Tere dam se
Ye Donon Jahaan Tune sanwaare hein Muhammad

Allah ne kuchh aese utaare hein Muhammad

Jis Shakhs ne Mehshar mein shafaa-at Teri paayi
Us Shakhs ke to waare niyaare hein Muhammad

Allah ne kuchh aese utaare hein Muhammad

Har Ek se hai Zille Raza ka yahi kehna
Ham bhi hein Tumhaare jo Tumhaare hein Muhammad

Allah ne kuchh aese utaare hein Muhammad








हिंदी (HINDI):

या रसूलल्लाह या रसूलल्लाह
या रसूलल्लाह या रसूलल्लाह


अल्लाह ने कुछ ऐसे उतारे हैं मुहम्मद
हर दौर में हर शख्स को प्यारे हैं मुहम्मद

अल्लाह ने जहानों को बना कर ये पुकारा
ये दोनों जहां सिर्फ तुम्हारे हैं मुहम्मद

अल्लाह ने कुछ ऐसे उतारे हैं मुहम्मद

खालिक ने बनाया है तुम्हें नूर से अपने
हसनैन इसी नूर के पारे हैं मुहम्मद

अल्लाह ने कुछ ऐसे उतारे हैं मुहम्मद

अब्दुल्लाह के हैं नूरे नज़र जानो जिगर भी
और आमेना बीबी के दुलारे हैं मुहम्मद

अल्लाह ने कुछ ऐसे उतारे हैं मुहम्मद

सरकार का मिलाद मनाता नहीं जो भी
वो सोच ले कौसर के किनारे हैं मुहम्मद

अल्लाह ने कुछ ऐसे उतारे हैं मुहम्मद

वल्लाह ये सूरज ये सभी चाँद सितारे
ये नक़्शे क़दम आपके सारे हैं मुहम्मद

अल्लाह ने कुछ ऐसे उतारे हैं मुहम्मद

है दोनों जहानों में ही रेहमत तेरे दम से
ये दोनों जहां तूने सँवारे हैं मुहम्मद

अल्लाह ने कुछ ऐसे उतारे हैं मुहम्मद

जिस शख्स ने महशर में शफ़ाअत तेरी पायी
उस शख्स के तो वारे नियारे हैं मुहम्मद

अल्लाह ने कुछ ऐसे उतारे हैं मुहम्मद

हर एक से है ज़िल्ले रज़ा का यही कहना
हम भी हैं तुम्हारे जो तुम्हारे हैं मुहम्मद

अल्लाह ने कुछ ऐसे उतारे हैं मुहम्मद




More Miladunnabi Naat Lyrics:

Click For More Miladunnbi Naats

Comments

Post a Comment

Facebook Page

Popular Naat Lyrics

Humne Aankhon se dekha nahi hai Magar Lyrics in English ~ Hindi ~ Urdu

Allah humma Sallay Ala Sayyidina Maulana Muhammad Lyrics in English Hindi Urdu

Wo Mera Nabi hai - Wo Jiske liye Mehfil e Konain saji hai - Lyrics - English Hindi Urdu

Aakhri Roze hein Dil gham-nak muztar Jaan hai Lyrics || Roman (Eng) & हिंदी (Hindi)

Madine ke Aaqa Salamun Alaik Lyrics || मदीने के आक़ा , सलामुन अलैक || مدینے کے آقا سَلاَمٌ عَلَيْكَ

Alwada Alwada Mahe Ramzan Lyrics by Owais Raza Qadri in English ~ Hindi

Hajiyon Mustafa se keh dena Lyrics || हाजियों मुस्तफा से कह देना || حاجیوں ! مصطفیٰ سے کہ دینا

Madina yaad aata hai Lyrics ~ dare aqdas pe haal e dil Lyrics ~ in English ~ HINDI ~ URDU

Maslak ka Tu Imaam hai Ilyas Qadri Lyrics || मसलक का तु इमाम है , इल्यास क़ादरी || مسلک کا تو امام ہے ، الیاس قادری || Roman(Eng) & हिंदी(Hindi)

Aye Shahenshah e Madina As-salat-o-Was-salam Lyrics in English Hindi Urdu