Mere Dil mein Ishq-e-Huzoor hai || मेरे दिल में इश्क़े हुज़ूर है || Lyrics || Rahat Fateh Ali Khan

 

Roman(ENG):



Nagma-e-Salle Ala wirde Zubaan rehta hai
Har Gadi samne Rahmat ka Sama rehta hai

Jab Madine ke Daro Baam nazar aate hein
Dile betaab ko fir hosh kahan rehta hai

Mere Dil mein Ishq-e-Huzoor hai
Mein Jahaan mein Sabse Ameer hun

Tujmein Hooro Qusoor rehte hein
Ye bhi maana zaroor rehte hein

Mere Dil ka Tawaaf kar Jannat
Mere Dil mein Huzoor rehte hein

Mere Dil mein Ishqe Huzur hai

Dil mein Ishqe Shahe Konain ki Daulat hai badi
Hun to naadan Mein lekin, Meri qimat hai badi

Mere Dil mein Ishqe Huzur hai
Mein Jahaan mein Sabse Ameer hun

Muje Taajdari se kya garaz
Mein Dare Nabi ka Fakeer hun

Na to Mera koi kamaal hai
Na dakhal hai Ismein guroor ka

Muje rakhte hein Wo nigaah mein
Ye Karam hai Mere Huzoor ka

Muje Taajdari se kya garaz
Mein Dare Nabi ka Fakeer hun

Muj par Mere Aaqa ka Ahesan bada hai
Sarkar ke mangton mein Mera Naam likha hai

Mein Dare Nabi ka Fakeer hun

Muje Haq ne bakhshi hai bartari
Meri thokaron mein Sikandari hai

Ye Jahaan nigahon mein kyun jache
Mein Gada hun Apne Huzoor ka

Mein Dare Nabi ka Fakeer hun

Gada-e-Shahe Arab hun, Fakeere Raah nahin
Fakeer Wo hun ke Nazron mein Badshah nahin

Mein Dare Nabi ka Fakeer hun

Faile hue Hathon ko hakarat se na dekh
Har Ek ke aage ye gadagar nahin hote

Mein Dare Nabi ka Fakeer hun

Muje Taajdari se kya garaz
Mein Dare Nabi ka Fakeer hun

Muje Mahero Maah se ho kaam kya
Tere Naqshe Paa pe Mein hun fida

Muje kya Rihaee se wasta
Teri zulf ka Mein Aseer hun

Zulfein to sabhi ki hein Magar,
Wallayl nahin hein Is liye

Teri zulf ka Mein Aseer hun

Muje kya Rihaee se wasta
Teri zulf ka Mein Aseer hun

Ye ata hai Ishqe Huzoor ki

Betalab Mujko diye jate hein Denewala
Hath uthte nahin Joli Meri bhar jaati hai

Ye ata hai Ishqe Huzoor ki

Bin mange diya aur Itna diya
Daman mein Hamare samaya nahin

Ye ata hai Ishqe Huzoor ki

Muje Behunar dekh kar Mustafa ne
Kamal Apni Mad-ha Sarahi ka bakhsha

Ye ata hai Ishqe Huzoor ki
Muje Jisne Aisi Hayat di

Jo na buj sake Wo Charaag hun
Jo na mit sake Wo Lakeer hun

Mein Gulame Panjatane Paak hun

Mujpar Kitna Niyazi karam ho gaya
Duniya kehne lagi Panjtan ka Gada

Is Gharane ka Jabse Mein nokar hua
Sabse acchhi Meri Nokari ho gayi

Mein Gulame Panjatan

Parwah kisi ki nahin, Har ek se Gani hun
Wabasta-e-Damaane Rasoole Madani hun Mein

Mein Gulame Panjatan

Maddahe Muhammad hun, Aqeeqe Yamani hun
Mein Shaifta-e-Aale Rasoole Madani hun

Aye Noor ! Mein Purnoor Us Noore Ali se
Panjab ka Panjabi hun, Qismat ka dhani hun

Mein Gulame Panjatane Paak hun
Mein Dare Butool ki khaak hun

Mein Hasan Husain ka hun Gada
Mein Sage Janabe Ameer hun

Jise kahiye Joodo Karam ki Raah
Wo hai Dar Jahan mein Huzoor ka

Usi Dar se Muje Khuda mila
Usi Aastaan ka Fakeer hun

Mein hun Saajide Dare Mustafa
Ye Mere Huzoor ki hai ata

Kahaan Unka Dar kahaan Mera Sar
Mein to Ek Gulame Hakeer hun

Mere Dil mein Ishqe Huzoor hai
Mein Jahaan mein Sabse Ameer hun





हिंदी(HINDI):


नगमा-इ-सल्ले अला विर्दे जुबां रहता है
हर गड़ी सामने रहमत का समां रहता है

जब मदीने के दरो बाम नज़र आते हैं 
दिल बेताब को फिर होश कहाँ रहता है

मेरे दिल में इश्क़े हुज़ूर है
में जहाँ में सबसे अमीर हूँ

तुझमें हूरो क़ुसूर रहते हैं
ये भी माना ज़रूर रहते हैं

मेरे दिल का तवाफ़ कर जन्नत
मेरे दिल में हुज़ूर रहते हैं

मेरे दिल में इश्क़े हुज़ूर है

दिल में इश्क़े शहे कोनैन की दौलत है बड़ी
हूँ तो नादान में लेकिन, मेरी क़ीमत है बड़ी

मेरे दिल का तवाफ़ कर जन्नत
मेरे दिल में हुज़ूर रहते हैं

मुझे ताजदारी से क्या गरज़
में दरे नबी का फ़कीर हूँ

न तो मेरा कोई कमाल है
न दखल है इसमें गुरूर का

मुझे रखते हैं वो निगाह में
ये करम है मेरे हुज़ूर का

मुझे ताजदारी से क्या गरज़
में दरे नबी का फ़कीर हूँ

मुज पर मेरे आक़ा का अहसान बड़ा है
सरकार के मंगतों में मेरा नाम बड़ा है

में दरे नबी का फ़कीर हूँ

मुझे हक़ ने बख्शी है बरतरी
मेरी ठोकरों में सिकन्दरी

ये जहां निगाहों में क्यों जचे
में गदा हूँ अपने हुज़ूर का

में दरे नबी का फ़कीर हूँ

गदा-इ-शहे अरब हूँ, फकीरे राह नहीं
फ़कीर वो हूँ के, नज़रों में बादशाह नहीं

में दरे नबी का फ़कीर हूँ

फैले हुए हाथों को हकारत से न देख
हर एक के आगे ये गदागर नहीं होते 

में दरे नबी का फ़कीर हूँ

मुझे ताजदारी से क्या गरज़
में दरे नबी का फ़कीर हूँ

मुझे महरो माह से हो काम क्या 
तेरे नक़्शे पा पे में हूँ फ़िदा

मुझे क्या रिहाई से वास्ता
तेरी ज़ुल्फ़ का में असीर हूँ

ज़ुल्फ़ें तो सभी की हैं मगर
वल्लेल नहीं हैं इस लिए

तेरी ज़ुल्फ़ का में असीर हूँ

मुझे क्या रिहाई से वास्ता
तेरी ज़ुल्फ़ का में असीर हूँ

ये अता है इश्क़े हुज़ूर की

बेतलब मुझको दिए जाते हैं देने वाले
हाथ उठते नहीं जोली मेरी भर जाती है

ये अता है इश्क़े हुज़ूर की

बिन मांगे दिया और इतना दिया
दामन में हमारे समाया नहीं

ये अता है इश्क़े हुज़ूर की

मुझे बेहुनर देख कर मुस्तफा ने
कमाल अपनी मद-हा सराही का बख्शा

ये अता है इश्क़े हुज़ूर की
मुझे जिसने ऐसी हयात दी

जो न बुज सके वो चराग हूँ
जो न मिट सके वो लकीर हूँ

में गुलामे पंजतने पाक हूँ

मुझपर कितना नियाज़ी करम हो गया
दुनिया कहने लगी पंजतन का गदा

इस घराने का जब से में नौकर हुआ
सबसे अच्छी मेरी नौकरी हो गयी

में गुलामे पंजतन

परवाह किसी की नहीं, हर एक से गनी हूँ
वाबस्ता-इ-दामाने रसूले मदनी हूँ में

में गुलामे पंजतन

मद्दाहे मुहम्मद हूँ, अक़ीक़े यमनी हूँ
में शैफा-इ-आले रसूले मदनी हूँ

अये नूर ! में पुरनूर उस नूरे अली से
पंजाब का पंजाबी हूँ, क़िस्मत का धनि हूँ

में गुलामे पंजतने पाक हूँ
में दरे बतूल की ख़ाक हूँ

में हसन हुसैन का हूँ गदा
में सगे जनाबे अमीर हूँ

जिसे कहिये जुदो  करम की राह 
वो है दर जहां में हुज़ूर हूँ

उसी दर से मुझे खुदा मिला
उसी आस्तां का फ़कीर हूँ

में हूँ साजिदे दरे मुस्तफा
ये मेरे हुज़ूर की है अता

कहाँ उनका दर कहाँ मेरा सर
में तो एक गुलामे हक़ीर हूँ

मेरे दिल का तवाफ़ कर जन्नत
मेरे दिल में हुज़ूर रहते हैं

Comments

Popular Naat Lyrics

Humne Aankhon se dekha nahi hai Magar || Lyrics || Wo Muhammad Madine mein Maujud hai || हमने आँखों से देखा नहीं है मगर || ENG HINDI URDU

Allah humma Sallay Ala Sayyidina Wa Maulana Muhammadin Lyrics || अल्लाहुम्म सल्ली अला सैय्यिदिना व मौलाना मुहम्मदिन || ENG HINDI URDU

Wo Jiske liye Mehfile Konain saji hai || Wo Mera Nabi hai Lyrics || वो जिसके लिए महफिले कोनैन सजी है || वो मेरा नबी है || وو جسکے لئے محفل کَونَیْن سجی ہے || Lyrics

Fazle Rabbe paak se beta mera dulha bana || Madani Sehra || Lyrics || फ़ज़्ले रब्बे पाक से बेटा मेरा दूल्हा बना || मदनी सेहरा || Haifz Tahir Qadri

Shahe Do Alam Salam Assalam || शाहे दो आलम सलाम अस्सलाम || Lyrics || Roman(Eng) & हिंदी (Hindi)

Tumne Shahe Jeelaan Muje Bagdaad bulaya Lyrics || तुमने शाहे जिलान मुझे बग़दाद बुलाया || Owais Raza Qadri

Bulalo Sarkar Tum Apne Dar Par || Salam Lyrics || बुलालो सरकार तुम अपने दर पर

Aye Khatme Rasool Makki Madani || अये खत्मे रसूल मक्की मदनी || Lyrics || Hafiz Uzair Akhtari

Madine ke Aaqa Salamun Alaik Lyrics || मदीने के आक़ा , सलामुन अलैक

Peerane peer mere shahe jilani Lyrics || पीराने पीर मेरे शाहे जिलानी

Facebook Page