Duniya bhar mein Fazle Rabb se charche hein Attar ke Lyrics || Roman(Eng) & हिंदी

Roman(Eng) :


Duniya Bhar mein Fazle Rabb se Charche hein Attar ke
Badhe Badhe Gun Gaate hein , Inke Suthre Kirdar ke


Duniya Bhar mein Fazle Rabb se Charche hein Attar ke

Mere Murshid , Sohne Murshid , Zulfein Jinki Pyaari
Sarpe Sabz Imama hai , Chehre pe Pyari Dahdi
Roohani Jalwe hein Mere Murshid ke Rukhsar ke

Duniya Bhar mein Fazle Rabb se Charche hein Attar ke

Darse Shariyat dene wale Mere Shaikhe Tarikat hein
Gause Paak ke Sadke mein Waliyon se rakhte aqeedat hein
Pakke Razwi Aashiq hein Ye Nabiyon ke Sardar ke

Duniya Bhar mein Fazle Rabb se Charche hein Attar ke

Sindhi , Balochi , Kishto , Punjabi ka Sab Fark Mitaaya hai
Jo bhi Aaya Paas mein Inke Usko Gale Lagaaya hai
Murshid Unse Pyar hein Karte Jo Aashiq Sarkar ke

Duniya Bhar mein Fazle Rabb se Charche hein Attar ke

Paygame Sunnat ko Duniya bhar mein Yun Pahunchaya hai
Jo bhi Bola Uspe Pehle Karke Amal Dikhaya hai
Asia , Yorop Wale hein Gardeeda Inke Pyar ke

Duniya Bhar mein Fazle Rabb se Charche hein Attar ke

Inke Chaahne Wale Karodon Lakhon Jaan Lutaate hein
Inke Diwanon mein Zamzam Aur Farooq bhi aate hein
Hein Mushtak Mahak Dekho Attar ke Gulzaar ke

Duniya Bhar mein Fazle Rabb se Charche hein Attar ke

Jinke Amal ko dekh ke Mujreem Dil se Taaeeb hote hein
Fazle Rabb se Kitne hi Islaam mein daakhil hote hein
Shukre Khuda ke Murshid hein Wo Afzal se Badkar ke

Duniya Bhar mein Fazle Rabb se Charche hein Attar ke


हिंदी :


दुनिया भर में फैले रब्ब से चर्चे हैं अत्तार के
बड़े बड़े गुन गाते हैं , इनके सुथरे किरदार के


मेरे मुर्शिद , सोहने मुर्शिद , ज़ुल्फ़ें जिनकी प्यारी
सर पे सब्ज़ इमामा है , चेहरे पे प्यारी दाढ़ी
रूहानी जलवे हैं मेरे मुर्शिद के रुखसार के

दुनिया भर में फैले रब्ब से चर्चे हैं अत्तार के

दरसे शरीयत देने वाले मेरे शैख़े तरीक़त हैं
गौसे पाके के सड़के में वालियों से रखते अक़ीदत हैं
पक्के रज़वी आशिक़ हैं ये नबियों के सरदार के

दुनिया भर में फैले रब्ब से चर्चे हैं अत्तार के

सिंधी, बलोची, किश्तों, पंजाबी, का सब फर्क मिटाया है
जो भी आया पास में इनके , उसको गले लगाया है
मुर्शिद उनसे प्यार हैं करते , जो आशिक़ सरकार के

दुनिया भर में फैले रब्ब से चर्चे हैं अत्तार के

पैग़ामे सुन्नत को दुनिया भर में यूँ पहुँचाया है
जो भी बोला उसपे पहले करके अमल दिखलाया है
एशिया, यूरोप, वाले हैं गरदीदा इनके प्यार के

दुनिया भर में फैले रब्ब से चर्चे हैं अत्तार के

इनके चाहने वाले करोड़ों लाखों जान लुटाते हैं
इनके दीवानों में ज़मज़म और फ़ारूक़ भी आते हैं
हैं मुश्ताक़ महक देखो अत्तार के गुलज़ार की

दुनिया भर में फैले रब्ब से चर्चे हैं अत्तार के

जिनके अमल को देख के मुजरिम दिल से ताईब होते हैं
फैले रब्ब से कितने ही इस्लाम में दाखिल होते हैं
शुक्रे खुदा के मुर्शिद हैं वो अफ़ज़ल से बढ़कर के

दुनिया भर में फैले रब्ब से चर्चे हैं अत्तार के

Comments

Facebook Page

Followers

Popular Naat Lyrics

Wo jiske liye Mehfile Konain saji hai Lyrics || Roman(Eng) and Hindi(हिंदी)

Shahe Do Aalam Salaam Assalaam Lyrics || Roman(Eng) & हिंदी (Hindi)

Allahumma Salle Ala Sayyidina Wa Maulana Muhammadin Lyrics || Roman (Eng) & हिंदी (Hindi)