Chalo Diyare Nabi ki Janib Naat Lyrics || चलो दियारे नबी की जानिब || Owais Raza Qadri


Roman(ENG):


Salla Alayk Ya Rasulallah
Wa Sallam Alayk Ya Habiballah

Chalo Diyare Nabi ki Janib
Durood Lab par Saja Saja kar
Baharein Lutenge Ham Karam ki
Dilon ko Daaman Bana Bana kar

Chalo Diyare Nabi ki Janib 
Durood Lab par Saja Saja kar

Salla Alayk Ya Rasulallah
Wa Sallam Alayk Ya Habiballah

Na Unke Jaisa Sakhi hai Koi
Na Unke Jaisa Gani hai Koi
Wo Be-Nawaaon ko Har Jagaah se
Nawazte hein Bula Bula kar

Chalo Diyare Nabi ki Janib 
Durood Lab par Saja Saja kar

Salla Alayk Ya Rasulallah
Wa Sallam Alayk Ya Habiballah

Hai Unko Ummat se Pyaar kitna
Karam hai Rahmat Shiaar kitna
Hamaare Jurmon ko dho rahe hein
Huzur Aansu baha baha kar

Chalo Diyare Nabi ki Janib 
Durood Lab par Saja Saja kar

Salla Alayk Ya Rasulallah
Wa Sallam Alayk Ya Habiballah

Mein Wo Nikamma hun Jiski Joli
Mein Koi Husne Amal nahin hai
Magar Wo Ahesaan kar rahe hein
Khataaein Meri chhupa chhupa kar

Chalo Diyare Nabi ki Janib 
Durood Lab par Saja Saja kar

Salla Alayk Ya Rasulallah
Wa Sallam Alayk Ya Habiballah

Yahi Asaas-e-Amal hai Meri
Isi se Bigdi bani hai Meri
Samet-ta hun Karam Khuda ka
Nabi ki Naatein Suna Suna kar

Chalo Diyare Nabi ki Janib 
Durood Lab par Saja Saja kar

Salla Alayk Ya Rasulallah
Wa Sallam Alayk Ya Habiballah

Agar Muqaddar ne Yaawari ki
Agar Madine gaya Mein Khalid
Qadam Qadam Khaak Us Gali ki
Mein Chum lunga Utha Utha kar

Chalo Diyare Nabi ki Janib 
Durood Lab par Saja Saja kar

Salla Alayk Ya Rasulallah
Wa Sallam Alayk Ya Habiballah




हिंदी(HINDI):


सल्ला अलैक या रसूलल्लाह
व सल्लम अलैक या हबीबल्लाह

चलो दियारे नबी की जानिब
दुरूद लब पर सजा सजा कर
बहारें लूटेंगे हम करम की
दिलों को दामन बना बना कर

चलो दियारे नबी की जानिब
दुरूद लब पर सजा सजा कर

सल्ला अलैक या रसूलल्लाह
व सल्लम अलैक या हबीबल्लाह

न उनके जैसा सखी है कोई
न उनके जैसा गनी है कोई
वो बे-नवाओं को हर जगह से
नवाज़ते हैं बुला बुला कर

चलो दियारे नबी की जानिब
दुरूद लब पर सजा सजा कर

सल्ला अलैक या रसूलल्लाह
व सल्लम अलैक या हबीबल्लाह

है उनको उम्मत से प्यार कितना
करम है रहमत शिआर कितना
हमारे जुर्मों को धो रहे हैं
हुज़ूर आंसू बहा बहा कर

चलो दियारे नबी की जानिब
दुरूद लब पर सजा सजा कर

सल्ला अलैक या रसूलल्लाह
व सल्लम अलैक या हबीबल्लाह

में वो निकम्मा हूँ जिसकी जोली
में कोई हुस्ने अमल नहीं है
मगर वो अहसान कर रहे हैं
ख़ताएँ मेरी छुपा छुपा कर

चलो दियारे नबी की जानिब
दुरूद लब पर सजा सजा कर

सल्ला अलैक या रसूलल्लाह
व सल्लम अलैक या हबीबल्लाह

यही असासे अमल है मेरी 
इसी से बिगड़ी बनी है मेरी 
समेटता हूँ करम खुदा का
नबी की नाते सुना सुना कर

चलो दियारे नबी की जानिब
दुरूद लब पर सजा सजा कर

सल्ला अलैक या रसूलल्लाह
व सल्लम अलैक या हबीबल्लाह

अगर मुकद्दर ने यावरी की 
अगर मदीने गया में खालिद
कदम कदम ख़ाक उस गली की
में चुम लूंगा उठा उठा कर

चलो दियारे नबी की जानिब
दुरूद लब पर सजा सजा कर

सल्ला अलैक या रसूलल्लाह
व सल्लम अलैक या हबीबल्लाह

Comments

Popular Naat Lyrics

Humne Aankhon se dekha nahi hai Magar || Lyrics || Wo Muhammad Madine mein Maujud hai || हमने आँखों से देखा नहीं है मगर || ENG HINDI URDU

Allah humma Sallay Ala Sayyidina Wa Maulana Muhammadin Lyrics || अल्लाहुम्म सल्ली अला सैय्यिदिना व मौलाना मुहम्मदिन

Wo Jiske liye Mehfile Konain saji hai || Wo Mera Nabi hai Lyrics || वो जिसके लिए महफिले कोनैन सजी है || वो मेरा नबी है || وو جسکے لئے محفل کَونَیْن سجی ہے || Lyrics

Fazle Rabbe paak se beta mera dulha bana || Madani Sehra || Lyrics || फ़ज़्ले रब्बे पाक से बेटा मेरा दूल्हा बना || मदनी सेहरा || Haifz Tahir Qadri

Shahe Do Alam Salam Assalam || शाहे दो आलम सलाम अस्सलाम || Lyrics || Roman(Eng) & हिंदी (Hindi)

Tumne Shahe Jeelaan Muje Bagdaad bulaya Lyrics || तुमने शाहे जिलान मुझे बग़दाद बुलाया || Owais Raza Qadri

Bulalo Sarkar Tum Apne Dar Par || Salam Lyrics || बुलालो सरकार तुम अपने दर पर

Aye Khatme Rasool Makki Madani || अये खत्मे रसूल मक्की मदनी || Lyrics || Hafiz Uzair Akhtari

Madine ke Aaqa Salamun Alaik Lyrics || मदीने के आक़ा , सलामुन अलैक

Peerane peer mere shahe jilani Lyrics || पीराने पीर मेरे शाहे जिलानी

Facebook Page