Allah Nabi ke Pyaaron uttho Aye Roza daaron Lyrics || Ramzan Special || Roman(Eng) & हिंदी


Roman(Eng) :


Allah Nabi ke Pyaaron uttho Aye Roza daaron
Mauka ye fir milaa hai Tum aaqebat sanwaaro

Uttho ke barkaton ka fir aa gayaa Mahinaa
Naazil hua Is mein Quraan ka khazinaa
Aao namaaz pad kar Quraan Tum uthaalo

Uttho Aye mominon Tum ye nek kaam karlo
Waqte Sahar hai aaya kuchh ahtemaam karlo
Ramzaan ka Mahina yun hi na Tum guzaaro

Tasbeeh Tum Khudaa ki karte raho hameshaa
Hai baadshaah usi se darte raho hameshaa
Batlaai jo Nabi ne Wo saari baat maano

Bas ye nahin kaafi Tum bhukhe pyaase rehnaa
Saare haraam se bhi parhez tumhe hai karnaa
Khushnudi-e-Khuda mein Roze ka haq adaa ho

Aye Mominon hasad se geebat se bachte rehnaa
Bejaa kisi pe hargiz zulmo sitam na dhaana
Taalime Haq yahi hai Haq naa kisi ka maaro

Juth aur bad zubani se Ijtinaab karnaa
Gar kar sako to Apna khud ehtesaab karna
Jo kuchh galat kiya hai Uski muaafi maango

Chhodo ladaai jagde gaali galoch gaane
Momin Wohi hai saccha Haq baat ko jo maane
Apne gunaah par Tum tauba ke par de daalo

Aye Sarfaraaz ye likh kam taul na nahin Tum
Jaheed munaafa le ke kuchh bech na nahin Tum
Rizke halaal khaawo,  Imaan ko bachaalo


हिंदी :


अल्लाह नबी के प्यारों , उठो अये रोज़ेदारों
मौका ये फिर मिला है तुम आक़ेबत संवारो

उठो के बरकतों का फिर आ गया महीना
नाज़िल हुआ इसमें क़ुरआन का खजिना
आओ नमाज़ पड़ कर क़ुरआन तुम उठालो

उठो अये मोमिनों तुम ये नेक काम करलो
वक़्ते सहर है आया कुछ एहतेमाम करलो
रमज़ान का महीना यूँही न तुम गुज़ारो

तस्बीह तुम खुदा की करते रहो हमेशा
है बादशाह उसी से डरते रहो हमेशा
बतलाई जो नबी ने वो सारी बात मानो

बस ये नहीं है काफी तुम भूके प्यासे रहना
सारे हराम से भी परहेज़ तुम्हे है करना
ख़ुशनूदी-इ-खुदा में रोज़े का हक़ अदा हो

अये मोमिनों हसद से ग़ीबत से बचते रहना
बेजा किसी पे हरगिज़ ज़ुल्मो सितम न ढाना
तालीमे हक़ यही है , हक़ ना किसी का मारो

जुठ और बदज़ुबानी से इज्तिनाब करना
गर कर सको तो अपना खुदा अहेतेसाब करना
जो कुछ गलत किया है उसकी मुआफी मांगो

छोडो लड़ाई जगड़े , गाली गलोच गाने
मोमिन वही है सच्चा हक़ बात को जो माने
अपने गुनाह पर तुम तौबा के पर हैं डालो

अये सरफ़राज़ ये लिख काम तोलना नहीं तुम
जाहिद मुनाफा लेके कुछ बेचना नहीं तुम
रिज़्के हलाल खाओ ईमान को बचालो

Comments

Facebook Page

Followers

Popular Naat Lyrics

Wo jiske liye Mehfile Konain saji hai Lyrics || Roman(Eng) and Hindi(हिंदी)

Shahe Do Aalam Salaam Assalaam Lyrics || Roman(Eng) & हिंदी (Hindi)

Allahumma Salle Ala Sayyidina Wa Maulana Muhammadin Lyrics || Roman (Eng) & हिंदी (Hindi)