Imdad kun Imdad kun, Ya Ghaus-e-Aazam Dastagir || Lyrics || इमदाद कुन इमदाद कुन, या ग़ौस-ए-आज़म दस्तगीर || Owais Raza Qadri

 

Roman(ENG):


Imdad kun Imdad kun, Az Ranj-o-gham aazad kun
Dar Deen-o-Duniya shaad kun, Ya Ghaus-e-Aazam Dastageer !

Tere Hath me.n Hath Maine diya hai
Tere Hath hai Laaj Ya Gaus-e-Aazam !

Imdad kun Imdad kun, Az Ranj-o-gham aazad kun
Dar Deen-o-Duniya shaad kun, Ya Ghaus-e-Aazam Dastageer !

Nikala hai Pahele to doobe huon ko
Aur Ab dubton ko bacha Gaus-e-Aazam !

Imdad kun Imdad kun, Az Ranj-o-gham aazad kun
Dar Deen-o-Duniya shaad kun, Ya Ghaus-e-Aazam Dastageer !

Bhanwar me.n fansa hai, Safeena Hamara
Bacha Ghaus-e-Aazam ! Bacha Ghaus-e-Aazam !

Imdad kun Imdad kun, Az Ranj-o-gham aazad kun
Dar Deen-o-Duniya shaad kun, Ya Ghaus-e-Aazam Dastageer !

Qasam hai ke Mushkil ko Mushkil na paya
Kaha Humne jis waqt Ya Ghaus-e-Aazam !

Imdad kun Imdad kun, Az Ranj-o-gham aazad kun
Dar Deen-o-Duniya shaad kun, Ya Ghaus-e-Aazam Dastageer !

Muridon ko khatra nahi.n bahar-e-gham se
Ke Bede ke he.n Na-Khuda Ghaus-e-Aazam

Imdad kun Imdad kun, Az Ranj-o-gham aazad kun
Dar Deen-o-Duniya shaad kun, Ya Ghaus-e-Aazam Dastageer !

Kahe Kis se jaa kar Hasan Apne Dil ki
Sune Kaun Tere siwa Ghaus-e-Aazam !

Imdad kun Imdad kun, Az Ranj-o-gham aazad kun
Dar Deen-o-Duniya shaad kun, Ya Ghaus-e-Aazam Dastageer !





हिंदी(HINDI):


इमदाद कुन इमदाद कुन, अज़ रंज-ओ-ग़म आज़ाद कुन
दर दीन-ओ-दुनिया शाद कुन, या ग़ौस-ए-आज़म दस्तगीर !

तेरे हाथ में हाथ मैंने दिया है
तेरे हाथ है लाज या ग़ौस-ए-आज़म !

इमदाद कुन इमदाद कुन, अज़ रंज-ओ-ग़म आज़ाद कुन
दर दीन-ओ-दुनिया शाद कुन, या ग़ौस-ए-आज़म दस्तगीर !

निकाला है पहले तो डूबे हुओं को
और अब डूबतों को बचा ग़ौस-ए-आज़म !

इमदाद कुन इमदाद कुन, अज़ रंज-ओ-ग़म आज़ाद कुन
दर दीन-ओ-दुनिया शाद कुन, या ग़ौस-ए-आज़म दस्तगीर !

भंवर में फसा है सफीना हमारा
बचा ग़ौस-ए-आज़म ! बचा ग़ौस-ए-आज़म !

इमदाद कुन इमदाद कुन, अज़ रंज-ओ-ग़म आज़ाद कुन
दर दीन-ओ-दुनिया शाद कुन, या ग़ौस-ए-आज़म दस्तगीर !

क़सम है के मुश्किल को मुश्किल न पाया
कहा हमने जिस वक़्त या ग़ौस-ए-आज़म !

इमदाद कुन इमदाद कुन, अज़ रंज-ओ-ग़म आज़ाद कुन
दर दीन-ओ-दुनिया शाद कुन, या ग़ौस-ए-आज़म दस्तगीर !

मुरीदों की खतरा नहीं बहर-ए-ग़म से
के बेड़े के हैं ना-खुदा ग़ौस-ए-आज़म

इमदाद कुन इमदाद कुन, अज़ रंज-ओ-ग़म आज़ाद कुन
दर दीन-ओ-दुनिया शाद कुन, या ग़ौस-ए-आज़म दस्तगीर !

कहे किस से जा कर हसन अपने दिल की
सुने कौन तेरे सिवा ग़ौस-ए-आज़म

इमदाद कुन इमदाद कुन, अज़ रंज-ओ-ग़म आज़ाद कुन
दर दीन-ओ-दुनिया शाद कुन, या ग़ौस-ए-आज़म दस्तगीर !




Comments

Popular Naat Lyrics

Humne Aankhon se dekha nahi hai Magar || Lyrics || Wo Muhammad Madine mein Maujud hai || हमने आँखों से देखा नहीं है मगर || ENG HINDI URDU

Allah humma Sallay Ala Sayyidina Wa Maulana Muhammadin Lyrics || अल्लाहुम्म सल्ली अला सैय्यिदिना व मौलाना मुहम्मदिन || ENG HINDI URDU

Wo Jiske liye Mehfile Konain saji hai || Wo Mera Nabi hai Lyrics || वो जिसके लिए महफिले कोनैन सजी है || वो मेरा नबी है || وو جسکے لئے محفل کَونَیْن سجی ہے || Lyrics

Fazle Rabbe paak se beta mera dulha bana || Madani Sehra || Lyrics || फ़ज़्ले रब्बे पाक से बेटा मेरा दूल्हा बना || मदनी सेहरा || Haifz Tahir Qadri

Shahe Do Alam Salam Assalam || शाहे दो आलम सलाम अस्सलाम || Lyrics || Roman(Eng) & हिंदी (Hindi)

Tumne Shahe Jeelaan Muje Bagdaad bulaya Lyrics || तुमने शाहे जिलान मुझे बग़दाद बुलाया || Owais Raza Qadri

Bulalo Sarkar Tum Apne Dar Par || Salam Lyrics || बुलालो सरकार तुम अपने दर पर

Aye Khatme Rasool Makki Madani || अये खत्मे रसूल मक्की मदनी || Lyrics || Hafiz Uzair Akhtari

Madine ke Aaqa Salamun Alaik Lyrics || मदीने के आक़ा , सलामुन अलैक

Peerane peer mere shahe jilani Lyrics || पीराने पीर मेरे शाहे जिलानी

Facebook Page