Taajdaare Madina ke jalway Lyrics || Zulfiqar Ali Hussaini || Roman(Eng) & हिंदी(Hindi)


Roman(Eng) :


Taajdaare Madina ke jalway
Jin ke Dil mein samaaye hue hein
Door reh kar Wo pur ba-aashnaan hein
Dil Madina banaaye hue hein

Jinko Unki Tawajjoh ne Paala
Unki Rehmat ne Jinko nawaaza
Un gadaaon ka kya puchhte ho
Wo zamaane pe chhaaye hue hein

Taajdaare Madina ke jalway
Jin ke Dil mein samaaye hue hein


Mere Aaqa ki Jin par nazar hai
Donon Aalam ki Unko khabar hai
Jinka maqsood Unka hi Dar hai
Saare asraa Wo paaye hue hein

Taajdaare Madina ke jalway
Jin ke Dil mein samaaye hue hein


Aale At-har ka sadqa ataa ho
Mufleesi ka Hamaari bhala ho
Aye Sakhi Aap ke Dar pe Ham bhi
Daamane Dil bichhaaye hue hein

Taajdaare Madina ke jalway
Jin ke Dil mein samaaye hue hein

Tees Paaron mein jo kuchh likha hai
Sar ba Sar Seerate Mustafa hai
Unki Seerat mein jo dhal gaya hai
Us pe Rehmat ke saaye hue hein

Taajdaare Madina ke jalway
Jin ke Dil mein samaaye hue hein

Meri auqaat kuchh bhi nahin hai
Khud Meri Zaat kuchh bhi nahin hai
Mere Sarkaar ka Ye Karam hai
Baat Meri banaaye hue hein

Taajdaare Madina ke jalway
Jin ke Dil mein samaaye hue hein

Aarazu e Karam Dil mein le kar
Khaalid Un ke sakhi aastaan par
Angaliyaa Auliya Asfiya sab
Apne Kaase badhaae hue hein

Taajdaare Madina ke jalway
Jin ke Dil mein samaaye hue hein


हिंदी (Hindi):


ताजदारे मदीना के जलवे
जिनके दिल में समाए हुए हैं
दूर रह कर वो पुर-ब-आशनां हैं
दिल मदीना बनाये हुए हैं

जिनको उनकी तवज्जोह ने पाला
उनकी रेहमत ने जिनको नवाज़ा
उन गदाओं का क्या पूछते हो
वो ज़माने पे छाये हुए हैं

ताजदारे मदीना के जलवे
जिनके दिल में समाए हुए हैं


मेरे आक़ा की जिन पर नज़र है
दोनों आलम की उनको खबर है
जिनका मक़सूद उनका ही दर है
सारे आसरा वो पाए हुए हैं

ताजदारे मदीना के जलवे
जिनके दिल में समाए हुए हैं


आले अतहर का सदक़ा अता हो
मुफलिसी का हमारी भला हो
अये सखी आपके दर पे हम भी
दामने दिल बिछाए हुए हैं

ताजदारे मदीना के जलवे
जिनके दिल में समाए हुए हैं


तीस पारों में जो कुछ लिखा है
सर ब सर सीरते मुस्तफा है
उनकी सीरत में जो ढल गया है
उस पे रेहमत के साये हुए हैं

ताजदारे मदीना के जलवे
जिनके दिल में समाए हुए हैं


मेरी औक़ात कुछ भी नहीं है
खुद मेरी ज़ात कुछ भी नहीं है
मेरे सरकार का ये करम है
बात मेरी बनाये हुए हैं

ताजदारे मदीना के जलवे
जिनके दिल में समाए हुए हैं


आरज़ू-इ-करम दिल में ले कर
खालिद उनके सखी आस्तां पर
अंगलिया औलिया असफिया सब
अपने कासे बढ़ाये हुए हैं

ताजदारे मदीना के जलवे
जिनके दिल में समाए हुए हैं

Comments

Post a Comment

Popular Naat Lyrics

Humne Aankhon se dekha nahi hai Magar || Lyrics || Wo Muhammad Madine mein Maujud hai || हमने आँखों से देखा नहीं है मगर || ENG HINDI URDU

Allah humma Sallay Ala Sayyidina Wa Maulana Muhammadin Lyrics || अल्लाहुम्म सल्ली अला सैय्यिदिना व मौलाना मुहम्मदिन || ENG HINDI URDU

Fazle Rabbe paak se beta mera dulha bana || Madani Sehra || Lyrics || फ़ज़्ले रब्बे पाक से बेटा मेरा दूल्हा बना || मदनी सेहरा || Haifz Tahir Qadri

Wo Jiske liye Mehfile Konain saji hai || Wo Mera Nabi hai Lyrics || वो जिसके लिए महफिले कोनैन सजी है || वो मेरा नबी है || وو جسکے لئے محفل کَونَیْن سجی ہے || Lyrics

Shahe Do Alam Salam Assalam || शाहे दो आलम सलाम अस्सलाम || شاہِ دو عالم سلام اَلسَّلام || Lyrics || Roman(Eng) & हिंदी (Hindi)

Bulalo Sarkar Tum Apne Dar Par || Salam Lyrics || बुलालो सरकार तुम अपने दर पर

Tumne Shahe Jeelaan Muje Bagdaad bulaya Lyrics || तुमने शाहे जिलान मुझे बग़दाद बुलाया || Owais Raza Qadri

Madine ke Aaqa Salamun Alaik Lyrics || मदीने के आक़ा , सलामुन अलैक

Aye Khatme Rasool Makki Madani || अये खत्मे रसूल मक्की मदनी || Lyrics || Hafiz Uzair Akhtari

Apne Malik ka Main Naam lekar Lyrics || अपने मालिक का में नाम लेकर || Roman(Eng) & हिंदी(Hindi) & اردو(Urdu)

Facebook Page