Noor wale Mustafa Aa gaye Chha gaye Lyrics || Hafiz Tahir Qadri || Roman(Eng) & हिंदी(Hindi)


Roman(Eng):


Noor wale Mustafa Aa gaye Chha gaye
Noor wale Mustafa Aa gaye Chha gaye

Noor wale Mustafa Shehre Aalam mein Aa gaye
Dekhte hi dekhte saare Jahan pe chha gaye

Noor wale Mustafa Aa gaye Chha gaye

Jagmagaai hai ye Duniya Mustafa ke Noor se 
Mehr chamka Maag chamka Mustafa ke Noor se

Noor wale Mustafa Aa gaye Chha gaye

Jashne Aaqa par sajin galiyaan Sitaron ki tarha
Dil mein Khushiyan raks karti hein bahaaron ki tarha

Noor wale Mustafa Aa gaye Chha gaye

Noor wale Mustafa Aa gaye Chha gaye
Doston dekho to sahi kaisi galiyaan saji hui hein
Kaisi Ronakein lagi hui hein,
Har taraf Khushiyan hi Khushiyan hein
Har taraf jande hi jande hein
Har Jagah Marhaba Ya Mustafa ki sadaein
Buland ho rahi hein

Marhaba Ya Mustafa Marhaba Ya Mustafa
Marhaba Ya Mustafa Marhaba Ya Mustafa

Sarkar ki Aamad ...... Marhaba
Dildar ki Aamad ...... Marhaba
Huzur  ki Aamad ...... Marhaba
Purnoor ki Aamad ...... Marhaba

Marhaba Ya Mustafa Marhaba Ya Mustafa

Mubarak ho wo Shah parde se bahir hone wala hai
Gadai ko zamana jiske dar par aane wala hai
Marhaba Ya Mustafa Marhaba Ya Mustafa

Sarkar ki Aamad ...... Marhaba
Dildar ki Aamad ...... Marhaba
Huzur  ki Aamad ...... Marhaba
Purnoor ki Aamad ...... Marhaba

Noor wale Mustafa Aa gaye Chha gaye

Aaj to sara jahan hai Noor mein duba hua
Jis taraf dekho sama hai Noor mein duba hua

Noor wale Mustafa Aa gaye Chha gaye

Apne Donon Hathon se kushiyan lutaane aa gaye
Aa gaye Aaqa nayi Duniya basane aa gaye

Noor wale Mustafa Aa gaye Chha gaye

Aasman par chha gayi hein Rehmaton ki badliyaan
Kaun aaye hein ke barsi cham-chama-cham bundiyaan

Noor wale Mustafa Aa gaye Chha gaye

Salam Mustafa Salam Mustafa
Salam Mustafa Salam Mustafa

Assalatu Wassalamu Alayk Ya Rasulallah
Ya Rasulallah Apne gulaamon ka Salaam qubul kar lijiye
Ya Rasulallah Ham gunahgaaron ka Salaam qubul kar lijiye
Aye garibon ke waali Salam ho Aap par

Salam Aye Aamena ke laal Aye Mehbube Sub'hani
Salam Aye Fakhre maujudaat Fakhre naw e Insani
Salam Us par ke jiske ghar mein chandi thi na sona tha
Salam Us par ke tuta boriya jiska bichhona tha
Salam Us par ke jisne be-kason ki dastagiri ki
Salam Us par ke jisne Badshaahi mein fakeeri ki
Salam Us par ke jisne chand ko do tukde farmaaya
Salam Us par ke jis ke hukm se Suraj palat aaya

Noor wale Mustafa Aa gaye Chha gaye

Noor dayein Noor bayein Noor aage pichhe Noor
Jurmaton mein Noor ke aaye saraapa rang ke Noor

Noor wale Mustafa Aa gaye Chha gaye

Zindagi bhar Naat ki mehfil sajate jayenge
Jaise bhi haalat hon, Unka Alam lehraayenge

Noor wale Mustafa Aa gaye Chha gaye

Baarwih ke Din mein jannat ke nazaare chha gaye
Unke kadmon mein Ujaagar Chand Taare aa gaye

Noor wale Mustafa Aa gaye Chha gaye

Aa gayi hai chha gayi hai sabz jandon ki bahar
Eide Miladunnabi hai jumon jumon Mere Yaar

Mere Aaqa Aaye Jhumon Mere Data Aaye Jhumon

Is Taraf jo Noor hai to us taraf bhi Noor hai
Zarra Zarra sab jahaan ka Noor se ma'moor hai

Mere Aaqa Aaye Jhumon Mere Data Aaye Jhumon



हिंदी(Hindi):


नूर वाले मुस्तफा आ गए छ गए
नूर वाले मुस्तफा आ गए छ गए

नूर वाले मुस्तफा शहर आलम में आ गए
देखते ही देखते सारे जहां पे छा गए

नूर वाले मुस्तफा आ गए छ गए

जगमगाई है ये दुनिया मुस्तफा के नूर से
महेर चमका, मांग चमका, मुस्तफा के नूर से

नूर वाले मुस्तफा आ गए छ गए

जश्ने आक़ा पर सजीं, गलियां सितारों की तरह
दिल में खुशियां रक्स करती हैं बहारों की तरह

नूर वाले मुस्तफा आ गए छ गए

नूर वाले मुस्तफा आ गए छा गए
दोस्तों! देखो तो सही कैसी गलियां सजी हुई हैं
कैसी रौनकें लगी हुई हैं 
हर तरफ खुशियां ही खुशियां हैं
हर तरफ जंडे ही जंडे हैं
हर जगह मरहबा या मुस्तफा की सदाएं बुलंद हो रही हैं

मरहबा या मुस्तफा मरहबा या मुस्तफा 
मरहबा या मुस्तफा मरहबा या मुस्तफा 

सरकार की आमद मरहबा
दिलदार की आमद मरहबा
हुज़ूर की आमद मरहबा
पुरनूर की आमद मरहबा

मरहबा या मुस्तफा मरहबा या मुस्तफा 

मुबारक हो वो शाह परदे से बहार होने वाला है
गदाई को ज़माना जिसके दर पर आने वाला है
मरहबा या मुस्तफा मरहबा या मुस्तफा 

सरकार की आमद मरहबा
दिलदार की आमद मरहबा
हुज़ूर की आमद मरहबा
पुरनूर की आमद मरहबा

नूर वाले मुस्तफा आ गए छा गए

आज जो सारा जहां है नूर में डूबा हुआ
जिस तरफ देखो समां है नूर में डूबा हुआ

नूर वाले मुस्तफा आ गए छा गए

अपने दोनों हाथों से खुशियां लुटाने आ गए
आ गए आक़ा नयी दुनिया बसाने आ गए

नूर वाले मुस्तफा आ गए छा गए

आसमां पर छा गयी हैं रहमतों की बदलियां
कौन आया है के बरसीं , छम-छमाछम बुँदियाँ

नूर वाले मुस्तफा आ गए छा गए

सलाम मुस्तफा सलाम मुस्तफा 
सलाम मुस्तफा सलाम मुस्तफा 

अस्सलातु वस्सलामु अलैक या रसूलल्लाह
या रसूलल्लाह ! अपने गुलामों का सलाम क़ुबूल कर लीजिये
या रसूलल्लाह ! हम गुनहगारों का सलाम क़ुबूल कर लीजिये
अये गरीबों के वाली ! सलाम  हो आप पर

सलाम अये आमेना के लाल अये महबूबे सुब्हानी
सलाम अये फखरे मौजूदात फखरे नौ-इ-इंसानी
सलाम उस पर के जिसके घर में न चांदी थी न सोना था
सलाम उस पर के टुटा बोरिया जिसका बिछोना था
सलाम उस पर के जिसने बेकसों की दस्तगीरी की
सलाम उस पर के जिसने बादशाही में फकीरी की
सलाम उस पर के जिसने चाँद को दो टुकड़े फ़रमाया
सलाम उस पर के जिसके हुक्म से सूरज पलट आया

नूर वाले मुस्तफा आ गए छा गए

नूर दाएं नूर बाएं नूर आगे पीछे नूर
झुरमटों में नूर के आये सरापा बनके नूर 

नूर वाले मुस्तफा आ गए छा गए

ज़िन्दगी भर नातकी महफ़िल सजाते जाएंगे
जैसे भी हालत हों उनका आलम लहराएंगे

नूर वाले मुस्तफा आ गए छा गए

बारविह के दिन में जन्नत के नज़ारे छा गए
उनके क़दमों में उजागर ! चाँद तारे आ गए

नूर वाले मुस्तफा आ गए छा गए

आ गयी है छा गयी है सब्ज़ जंडों की बहार
ईदे मिलादुन्नबी है जूमो जूमो मेरे यार

मेरे आक़ा आये जूमो मेरे दाता आये जूमो 

इस तरफ जो नूर है तो उस तरफ भी नूर है
ज़र्रा ज़र्रा सब जहां का नोरर से मामूर है

मेरे आक़ा आये जूमो मेरे दाता आये जूमो 


Naat Khwan : 

Hafiz Tahir Qadri

Comments

Popular Naat Lyrics

Humne Aankhon se dekha nahi hai Magar || Lyrics || Wo Muhammad Madine mein Maujud hai || हमने आँखों से देखा नहीं है मगर || ENG HINDI URDU

Allah humma Sallay Ala Sayyidina Wa Maulana Muhammadin Lyrics || अल्लाहुम्म सल्ली अला सैय्यिदिना व मौलाना मुहम्मदिन

Wo Jiske liye Mehfile Konain saji hai || Wo Mera Nabi hai Lyrics || वो जिसके लिए महफिले कोनैन सजी है || वो मेरा नबी है || وو جسکے لئے محفل کَونَیْن سجی ہے || Lyrics

Fazle Rabbe paak se beta mera dulha bana || Madani Sehra || Lyrics || फ़ज़्ले रब्बे पाक से बेटा मेरा दूल्हा बना || मदनी सेहरा || Haifz Tahir Qadri

Shahe Do Alam Salam Assalam || शाहे दो आलम सलाम अस्सलाम || Lyrics || Roman(Eng) & हिंदी (Hindi)

Tumne Shahe Jeelaan Muje Bagdaad bulaya Lyrics || तुमने शाहे जिलान मुझे बग़दाद बुलाया || Owais Raza Qadri

Bulalo Sarkar Tum Apne Dar Par || Salam Lyrics || बुलालो सरकार तुम अपने दर पर

Aye Khatme Rasool Makki Madani || अये खत्मे रसूल मक्की मदनी || Lyrics || Hafiz Uzair Akhtari

Madine ke Aaqa Salamun Alaik Lyrics || मदीने के आक़ा , सलामुन अलैक

Peerane peer mere shahe jilani Lyrics || पीराने पीर मेरे शाहे जिलानी

Facebook Page